Category

mulaqat

Film, mulaqat

with GULZAR

फिर किसी शाख ने फेंकी छाँव फिर किसी शाख ने हाथ हिलाया फिर किसी मोड़ से उलझे पाँव फिर किसी राह ने पास बुलाया लब पे आता नही था नाम…Continue reading